कोरोना महामारी के बाद हुए लॉकडाउन में राहत मिलने के बाद भी अभी अधिकतर खेलों की शुरुआत नहीं हो पायी है। ऐसे में समय बिताने और फिट रहने के लिए खिलाड़ी अलग-अलग प्रकार के कामों में व्यस्त हैं। इसी बीच शीर्ष निशानेबाज मनु भाकर कुछ नया सीखने के लिए खेतों में ट्रैक्टर चलाने के अलावा पेंटिंग और घुड़सवारी कर रही हैं। 
कोविड-19 महामारी के चलते अभी खेल गतिविधियां शुरू नहीं हो पाई हैं, जिससे मनु हरियाणा के झज्जर जिले में अपने गांव गोरिया में अभ्यास में लगी है। मनु ने कहा, ''कोरोना वायरस महामारी को शुरू हुए काफी समय हो गया है। मैं पेंटिंग करने के अलावा घुड़सवारी कर रही हूं और खेतों में ट्रैक्टर भी चला रही हूं।''
इस खिलाड़ी ने कहा कि टोक्यो ओलंपिक भी अगले साल तक स्थगित हो चुके हैं और कई अन्य प्रतियोगितायें भी स्थगित हो गई या रद्द हो गई हैं, ऐसे में  खिलाड़ियों के लिए ध्यान एकाग्रचित्त रखना चुनौती बन जाता है।
उन्होंने कहा, ''मैं कड़ी ट्रेनिंग कर रही हूं और ध्यान केंद्रित किए हूं।''
उन्होंने कहा, ''योग और ध्यान इसमें काफी अहम भूमिका निभाते हैं, विशेषकर कोविड-19 से पैदा हुई मुश्किल परिस्थितियों में। इनसे मानसिक और शारीरिक समस्या निपटने में मदद मिलती है। जब आप ध्यान लगाते हो तो आप मानसिक रूप से काफी मजबूत होते हो, आप जानते हो कि एकाग्र कैसे हुआ जाए।''
कोविड-19 को लेकर जागरुकता फैला रहे समरेश जंग 
वहीं निशानेबाज समरेश जंग अपने परिवार के पांच सदस्यों के साथ कोविड-19 पॉजिटिव पाये जाने के बाद से ही कोविड-19 के बारे में जागरूकता फैला रहे हैं। समरेश ने कहा, ‘‘वही चीजें बता रहा हूं जो करनी चाहिए और जो नहीं करनी चाहिए, जिनके बारे में मैं जानता हूं और जिनको भी मैं जानता हूं, उन्हें मैं यह संदेश दे रहा हूं। ’’
वह अपने परिवार के पांच सदस्यों के साथ कोविड-19 पॉजिटिव पाये गये थे। जब तक संबंधित अधिकारियों ने उन्हें 22 जून को मंजूरी प्रमाणपत्र नहीं दे दिया तब तक वे घर में पृथकवास में रहे।
मेलबर्न 2006 राष्ट्रमंडल खेलों में दो स्वर्ण सहित सात पदक जीतने वाले 50 साल के पिस्टल निशानेबाज के लिये पिछले कुछ हफ्ते काफी कठिन रहे। वह चुनौतियां का सामना करने के आदी हैं लेकिन जंग ने कहा, ‘‘लेकिन यह बहुत ही अलग थी। ’’
उन्होंने कहा, ‘‘मैं कहूंगा कि जिन्हें कोविड-19 पॉजिटिव होने का पता चला है, वे घबराये नहीं, लेकिन साथ ही इसे हल्के में नहीं लें। यह नहीं सोचना चाहिए कि हमें संक्रमण नहीं होगा। आपको काफी सतर्क रहना होगा। ’’ जंग अब राष्ट्रीय पिस्टल टीम के कोच हैं, उन्होंने कहा कि जब वह पांच जून को कोविड-19 के पॉजिटिव पाये गये तो उनका लक्ष्य खुद को नकारात्मकता से दूर रखना रहा।
उन्होंने कहा, ‘‘इसलिये मैंने इन सभी वाट्सएप संदेशों और टीवी से दूर रखने का फैसला किया। हालांकि इस दौरान कुछ दिन काफी मुश्किल रहे, लेकिन मैं सकारात्मक बना रहा। ’’ उनके परिवार के चार सदस्यों ने घर में खुद को अलग रखा जबकि दो को विशेष कोविड सुविधाओं में जाना पड़ा।