भिंड (BHIND) में लॉकडाउन (Lockdown) के दौरान गरीब महिलाओं को प्रधानमंत्री जन धन योजना (pm jan dhan yaojna) से 500 रुपये लेना महंगा पड़ गया.पुलिस ने सोशल डिस्टेंस का उल्लंघन करने पर 39 गरीब महिलाओं को अस्थाई जेल (jail) भेज दिया. पुलिस ने इनके ऊपर 151 के तहत कार्रवाई भी की. 4 घंटे अस्थाई जेल में रखने के बाद सभी को रिहा कर दिया गया.इस कार्रवाई के दौरान पुलिस की भी बड़ी लापरवाही सामने आई है. सोशल डिस्टेंस का उल्लंघन करने के जिस आरोप में  इन्हें पकड़ा गया था, पुलिस ने खुद उसका पालन नहीं किया. इन 39 महिलाओं को हिरासत में लेकर एक ही वैन में ठूंस दिया गया.अब अफसर सफाई दे रहे हैं.

कोरोना वायरस की महामारी के दौरान पैसे की तंगी से उबारने के लिए जनधन खातों में सरकार ने 500 रुपए जरूरतमंदों के खाते में डाले हैं. खबर मिलते ही भिंड में बड़ी संख्या में महिलाएं बैंक के कियोस्क सेंटर जा पहुंचीं. देखते-देखते ही कियोस्क सेंटर्स पर भीड़ उमड़ पड़ी और सोसल डिस्टेंस की धज्जियां उड़ गयीं. जैसे ही पुलिस के आला अधिकारिंयों को इसकी जानकारी मिली उन्होंने महिला पुलिस फोर्स को जेल वाहन के साथ भेजकर लॉक डाउन का उल्लंघन ना करने और सोशल डिस्टेंस का पालन करने की मुनादी करायी. लेकिन बार-बार चेताने के बाद भी जो महिलाएं नहीं मानीं ऐसी 39 महिलाओं को पुलिस ने हिरासत में ले लिया. सबको जेल वाहन में भरा और एक स्कूल में बनायी गयी अस्थाई जेल में भेज दिया. इन महिलाओं को धारा 151 में बंद कर दिया गया.

जिस आरोप में पकड़ा उसी का पुलिस ने किया उल्लंघन

पुलिस ने जिस आरोप में इन महिलाओं को पकड़ा था उसी का नियम उसने खुद नहीं किया. इन 39 महिलाओं को सोशल डिस्टेंस का पालन किए बिना एक ही वैन में ठूंस दिया गया. 4 घंटे बाद पुलिस ने बिना मेडिकल चैकअप के सबको छोड़ दिया. हालांकि बाद में अफसर सफाई दे रहे हैं.