नई दिल्लीः भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के नेता कपिल मिश्रा ने 29 फरवरी को दिल्ली के जंतर-मंतर पर 'शांति मार्च' का आह्वान किया. इस बात की जानकारी उन्होंने ट्विटर हैंडल के जरिए दी है. ट्वीट कर उन्होंने लिखा, ''आज सुबह 10:30 बजे. जंतर मंतर. आप सभी जरूर आइये.'' बता दें कि उत्तर पूर्वी दिल्ली में सांप्रदायिक दंगे शुरू होने से पहले कपिल मिश्रा के नफरत भरे भाषण देते हुए वीडियो वायरल हुआ था.

 

वीडियो वायरल होने के बाद बीजेपी नेता कपिल मिश्रा ने गुरुवार को कहा कि सीएए विरोधियों से सड़क जाम खत्म करने की अपील को लेकर उनसे सवाल तो किया जा रहा है लेकिन जिन्होंने देश को बांटने की बात कही, उनसे सवाल नहीं पूछे जा रहे हैं.

 

पिछले हफ्ते नागरिकता कानून के विरोधियों को सड़क से हटाने की बात करने वाले अपने भड़काऊ बयान को लेकर सुर्खियों में आये कपिल मिश्रा ने शांति मार्च निकालने से पहले यह टिप्पणी की थी.

 

हिंसा प्राभावित क्षेत्र

 

दिल्ली पुलिस के पीआरओ एमएम रंधावा ने बताया कि फॉरेसिंक टीम ने क्राइम सीन का दौरा किया. इसके साथ ही सोशल मीडिया की भी मॉनिटरिंग हो रही है. स्पेशल इन्वेस्टीगेशन टीम सबूत इकट्ठे कर रही है. हिंसा में मरने वालों की संख्या बढ़कर 42 हो गई है. हिंसा में 250 से अधिक लोग घायल हुए हैं.

 

दिल्ली हिंसा में मुख्य रूप से जो क्षेत्र प्रभावित हुए हैं, उनमें जाफराबाद, मौजपुर, चांदबाग, खजूरी खास और भजनपुरा शामिल हैं.

 

शांति बहाली की कोशिश

 

हिंसा के बाद अब दिल्ली पुलिस ने जनता को समझाने का काम शुरु कर दिया है. शांति बहाली की कोशिश में पुलिस जनता से संवाद कर रही है. कोशिश है कि जनता के मन में फैले डर को खत्म किया जा सके.

 

हिंसा वाले इलाकों में भारी सुरक्षाबल तैनात है. हालांकि 26 फरवरी की शाम के बाद से अबतक हिंसा की कोई खबर नहीं आई है. जुमे की नमाज़ को देखते हुए दिल्ली के हिंसा प्रभावित उत्तर पूर्व जिले के खजुरी खास और दयालपुर इलाकों में भारी सुरक्षाबल तैनात है.